reliance group vacates its headquarters in debt

वित्तीय संकट से जूझ रहे अनिल अंबानी की अगुवाई वाले रिलायंस ग्रुप ने मुंबई के बलार्ड एस्टेट स्थित अपना मुख्यालय रिलायंस सेंटर को खाली कर दिया है। खबर के अनुसार, कर्ज के बोझ को कम करने के लिए अपनी संपत्तियाें को बेच रहा यह औद्योगिक समूह ने अपने हेडक्वार्टर को सांताक्रूज स्थित दफ्तर में चलाने का फैसला लिया है।

51% स्टेक अपने कर्जदाताओं को देगा
रिलायंस समूह पर करीब 60,000 करोड़ रुपए का कर्ज है। इस साल मार्च में समूह ने मुंबई में अपने पावर डिस्ट्रीब्यूशन बिजनेस को अडानी ग्रुप को 18,800 करोड़ रुपए में बेच दिया। समूह ने अपने फ्लैगशिप रिलायंस कम्यूनिकेशन के 51 प्रतिशत स्टेक को अपने कर्जदाताओं को देने की पेशकश की है। इसके अलावा कंपनी बचे हुए 27,000 करोड़ रुपए कर्ज को चुकाने के लिए अपने स्पेक्ट्रम को बेचकर 17,000 करोड़ रुपए जुटाएगी। समूह ने देशभर में अपने रियल एस्टेट संपत्तियों को 10,000 करोड़ रुपए में बेचने जा रहा है।ऊर्जा के क्षेत्र में काम कर रही ग्रुप की कंपनी रिलायंस पावर भी संघर्ष कर रही है। इसका मार्केट वैल्यू 11,400 करोड़ रुपए है जो 2008 में आईपीओ के जरिए जुटाए गए 11,700 करोड़ रुपए से भी 300 करोड़ रुपए कम है। समूह एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, व्यावहारिक कारणों से ग्रुप के कॉरपोरेट ऑफिस को सांताक्रूज शिफ्ट कर दिया गया है। अनिल अंबानी समेत समूचा टॉप मैनेजमेंट वहीं बैठेगा। इसलिए दक्षिण मुंबई के दफ्तर में बैठने का कोई मतलब नहीं था।

Related Post

Close Menu