रीयल्टी कंपनी एमार एमजीएफ लैंड को 2017-18 में 724.1 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ है। इससे पिछले वित्त वर्ष में उसे 754.36 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। कंपनी ने शेयर बाजारों को बताया कि अलोच्य अवधि में उसकी कुल आय 43 प्रतिशत बढ़कर 1,363.83 करोड़ रुपये हो गई, जो वर्ष 2016-17 में 953.89 करोड़ रुपये थी। अधिक आय के बावजूद एमार एमजीएफ को घाटा हुआ क्योंकि उसका कुल खर्च 2016-17 में 1,708.25 करोड़ रुपये से बढ़कर 2017-18 में 2,087.93 करोड़ रुपये हो गया।

एमार एमजीएफ लैंड दुबई की कंपनी एमार प्रॉपर्टीज और भारतीय कंपनी एमजीएफ डेवलपमेंट का संयुक्त उद्यम है। एमार ने 2005 में रीयल्टी क्षेत्र के सबसे एफडीआई के साथ भारतीय बाजार में कदम रखा था और संयुक्त उद्यम के जरिए रीयल एस्टेट बाजार में 8,500 करोड़ रुपये का निवेश किया था। हालांकि, अप्रैल 2016 में दोनों कंपनियों ने अलग होने का फैसला किया। राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण ने इस वर्ष जनवरी में बंटवारे के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी।

Related Post

Close Menu