​इस रूसी लिमोजिन का साइज 6,000 mm से ज़्यादा है

हाल ही मर्सडीज बेंज लिमोजिन लग्जरी कार में देखा गया। यह नई कार उन्होंने पहली बार एक उद्घाटन समारोह में इस्तेमाल की। ऐसा पहली बार है जबकि किसी रूसी प्रेजिडेंट ने आॅफिशल बिजनस के लिए रूस मेड कार का इस्तेमाल किया हो। आइए, जानते हैं इस कार से जुड़ी कुछ रोचक बातेंयह रूस में बनाई गई है और यह सोवियत संघ के वक्त की याद दिलाती है। उन दिनों सोवियत के लीडर जिल लिमोजिन में घूमते थे।जिस गाड़ी में रूसी राष्ट्रपति पुतिन आए, वह लिमोजिन 2013 से बनाई जा रही थी। पिछले साल ही इसका प्रॉडक्शन रूस में शुरू हुआ।Limousine में कई खूबियां है। यह हाइटेक कार अत्याधुनिक सेफ्टी फीचर्स से लैस है। इसकी काफी दिनों से टेस्टिंग चल रही थी और हाल ही इसने क्रैश टेस्ट पास किया है। टेस्ट में यह खरी उतरी है।इसे बनाने के 'प्रॉजेक्ट कॉर्टेज' पर 12.4 बिलियन रुबेल यानी इंडियन करंसी के हिसाब से तकरीबन 13 अरब रुपए से भी ज्यादा का निवेश किया गया।इस रूसी लिमोजिन का साइज 6,000 mm से ज़्यादा है और यह एक मल्टीपर्पज कार है। बाजार में बिक्री के लिए इसे जल्द ही उतारा जाएगा। इसका मुकाबला मुख्य रूप से मर्सडीज मायबैक, बेंटली, रोल्ज रॉयस आदि की लग्जरी कारों से होगा।इसमें 4.4 लीटर टर्बोचार्ज्ड इंजन है जो कि 600 हॉर्सपावर की ताकत जेनरेट करता है। इंजन को 9 स्पीड आॅटोमैटिक गियरबॉक्स से लैस किया गया है

Related Post

Close Menu