फेसबुक ला सकता है अपनी क्रिप्‍टोकरंसी, 2 अरब से ज्‍यादा यूजर्स को मिलेगा पेमेंट ऑप्‍शन

फेसबुक की ओर से नया ब्लॉकचेन ग्रुप बनाने की खबर के बाद अब कहा जा रहा है कि फेसबुक अपनी क्रिप्टोकरंसी ला सकता है। टेक वेबसाइट Cheddar के अनुसार, फेसबुक इस मसले पर बेहद गंभीरता से विचार कर रहा है। हालांकि, इस मामले से जुड़े लोगों का कहना है कि फेसबुक कथित तौर पर इनिशियल कॉइन ऑफरिंग (ICO) जारी करने पर विचार नहीं कर रहा है। इसके जरिए कंपनी सीमित संख्या में वर्चुअल टोकन जारी करेगी, जिन्हें तय कीमतों पर खरीदा जा सकेगा।

2 अरब यूजर्स को मिलेगा पेमेंट ऑप्‍शन 
पूरी दुनिया में फेसबुक के 2 अरब से ज्यादा यूजर हैं। क्रिप्टोकरंसी लॉन्च करने से इन यूजर्स को बिटकॉइन जैसी वर्चुअल करंसी का इस्तेमाल कर पेमेंट करने की सुविधा मिल जाएगी। फेसबुक मैसेंजर के एग्जिक्युटिव इंचार्ज डेविड मार्कस ने एक पोस्ट में कहा, 'हम एक छोटा सा ग्रुप बनाने जा रहे हैं, जो फेसबुक में ब्लॉकचेन बनाने का काम करेगा।' इसके बाद फेसबुक की ओर से जारी बयान में कहा गया, 'कई अन्य कंपनियों की तरह फेसबुक भी ब्लॉक चेन टेक्‍नोलॉजी की ताकत को एक्सप्लोर करना चाहता है। यह छोटी सी टीम कई अलग-अलग एप्लिकेशंस को एक्सप्लोर करेगी। अभी हमारे पास इसके अलावा कुछ बताने को नहीं है।' टेक न्‍यूज वेबसाइट रीकोड ने सबसे पहले इस बारे में खबर दी थी कि फेसबुक की ओर से ब्लॉकचेन टेक्‍नोलॉजी के लिए नई टीम गठित की जा रही है। इस ग्रुप को लीड करने के लिए मार्कस अपना पद छोड़ेंगे। ब्‍लॉकचेन टीम 'न्‍यू प्‍लेटफॉर्म एंड इन्‍फ्रा' के तहत काम करेगी, जिसे चीफ टेक्‍नोलॉजी आफिसर (सीटीओ) माइक श्रोफर चलाते हैं। माइक फेसबुक के एआर, वीआर और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस इनी‍शिएटिव की जिम्‍मेदारी भी संभालेंगे।

Close Menu