तुर्क बिरादरी की पंचायत सुलझाएगी विवाद

क्रिकेटर मोहम्मद शमी और उनकी पत्नी हसीन जहां के साथ चल रहे घरेलू विवाद में अब बिरादरी की पंचायत ने दखल दिया है. मो. शमी की तुर्क बिरादरी इस पारिवारिक विवाद को सुलझाने के लिए एक पंचायत बैठाने की तैयारी में है. इसके लिए पंचायत के लोग अमरोहा में शमी के घर पहुंचे. वहां उन्होंने हसीन जहां से उसका पक्ष जाना.

पिछले दिनों मो. शमी की पत्नी हसीन जहां अपनी बेटी और वकील के साथ अमरोहा में उनके घर पहुंची थी. उस वक्त उनके आने की सूचना मिलते ही शमी का परिवार घर में ताला लगाकर कहीं दूसरी जगह चला गया. इसके बाद हसीन जहां पुलिस से लेकर पड़ोसियों तक भटकती रही, लेकिन अमरोहा में उनकी सुनने वाला कोई नहीं था.

इसके बाद पंचायत के सदस्यों को इसकी जानकारी हुई. बिरादरी के ही एक सदस्य के घर पर लोगों ने हसीन जहां की बात को सुना. इन्होंने शमी ओर हसीन की पंचायत कराने का बीड़ा उठाया है. तुर्क बिरादरी के लोगों ने पूर्व विधायक मुन्ना आकिल के घर पर शमी के भाई हसीब, मामा मुगीर सहित परिजनों से मुलाकात करके उनका पक्ष भी जाना.

बताते चलें कि क्रिकेटर मोहम्मद शमी ने पत्नी हसीन जहां के अमरोहा स्थित पैतृक घर पहुंचने के बाद पुलिस अधीक्षक को खत लिखकर उनको परिवार से दूर रखने का अनुरोध किया था. शमी ने खत लिखकर उनसे अपने परिवार को खतरा बताया है. हसीन जहां शमी के घर पहुंची, लेकिन घर पर ताला लगा होने की वजह से पड़ोसी के वहां सामान रख दिया.

मो. शमी ने खत में लिखा था, 'मेरी पत्नी हसीन जहां बच्ची के साथ मेरे घर अमरोहा आ पहुंची हैं. मेरी पत्नी हसीन जहां के साथ बीते कई दिनों से मेरा विवाद चल रहा है. इसमें उन्होंने मेरे परिवार के लोगों पर हत्या और रेप के साथ ही कई गंभीर आरोप लगाए हैं. इसके चलते उनके घर आने से मैं खुद को डरा हुआ महसूस कर रहा हूं.'

शमी ने लिखा, 'ऐसा न हो कि ये फिर किसी तरह का आरोप लगाकर मुझे फंसाने का प्रयास करें. ऐसी परिस्थिति में मैं अपनी पत्नी हसीन जहां के साथ नहीं रह सकता हूं. यदि वह चाहें तो अमरोहा के किसी भी होटल में जाकर बच्ची के साथ रह सकती हैं. उसका सारा खर्च मैं खुद वहन करूंगा. मैं भविष्य के किसी खतरे के मद्देनजर पूर्व सूचना दे रहा हूं.'

हसीन जहां ने मो. शमी के घर से लौटते समय कहा था कि वह अपना हक लेकर रहेंगी. उन्होंने कहा कि डिडौली थाने की पुलिस मो. शमी से मिली हुई है. उन्हें अमरोहा में अपनी जान को खतरा है. हसीन जहां अपने साथ अपना सामान भी ले कर आई थीं. उन्हें सारा सामान पड़ोसी के यहां रखना पड़ा, क्योंकि शमी के घर में ताला लगा हुआ था.

हसीन जहां की शिकायत पर पुलिस ने शमी और उनके परिवार के खिलाफ आईपीसी की धारा 498A, 323, 307, 376, 506, 328 और 34 के तहत केस दर्ज किया है. इसमें घरेलू हिंसा के आरोप में भी केस दर्ज है. हसीन जहां ने इसी साल मार्च में शमी की कई महिलाओं के साथ फेसबुक पर हुई चैट के स्क्रीन शॉट पोस्ट कर यह आरोप लगाए थे

Related Post

Close Menu