जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ती है, हमारे शरीर में कई बदलाव आते है। कई बीमारियां भी उम्र बढ़ने के साथ ही होने लगती है। असल में इसका सीधा कनेक्शन हमारी लाइफ स्टाइल से होता है। जब हम टीन एज और यूथ होते है तो बाहर का खाना, सिगरेट और शराब पीने का शौक चढ़ जाता है। फिर जब नौकरी या बिजनेस की जिम्मेदारी सिर पर आती है, तो खाने-पीने में लापरवाही और सिगरेट-शराब का सेवन बढ़ जाता है। वक्त बीतने के साथ इन आदतों का सीधा असर शरीर पर पड़ता है और कई बार जटिल बीमारियां जकड़ लेती है। विशेषज्ञों का कहना है कि बढ़ती उम्र में अगर गंभीर बीमारियों से बचना है तो 40 साल की उम्र पार करने से पहले कुछ आदतें छोड़ देनी चाहिए। एक्सपर्ट्स के मुताबिक बिना हृदय रोग के 40 की उम्र पार करना कोई बड़ी बात नहीं है। हाई ब्लड प्रेशर, हाई कोलेस्ट्रॉल, मोटापा और डायबिटीज का खतरा इस उम्र तक आते-आते बढ़ने लगता है। इसलिए लाइफस्टाइल में कुछ बदलाव को अपनाकर आप कई गंभीर समस्याओं से किनारा कर सकते हैं। आईए जानते है कि वो कौनसी आदतें या लाइफस्टाइल हैं जो आपको जल्द 40 की उम्र से पहले छोड़ देनी चाहिए।

स्मोकिंग

स्मोकिंग दिल की बीमारी का सबसे प्रमुख कारण हो सकता है क्योंकि इसे छोड़ना आसान नहीं होता है। न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी के लैगॉन हेल्थ में मेडिसिन विभाग के प्रोफेसर और कार्डियोलॉजिस्ट रिचर्ड स्टीन का कहना है कि स्मोकिंग छोड़ने के लिए अपने डॉक्टर की मदद लेने से कतराना नहीं चाहिए।

 

कमर का बढ़ता आकार 

शरीर की यह दशा इस बात की सूचक है कि आपको हृदय रोग की कितनी आशंका है। 40 साल की उम्र पार करने के बाद खराब खानपान के कारण हमारे शरीर का चयापचय धीमा होने लगता है। इसलिए अपनी खानपान की आदतों में तुरंत बदलाव लाना चाहिए। अपने वजन पर निगरानी रखना बेहतर होगा।

 

कैलोरी की मात्रा घटाएं 

अक्सर बिना सोचे-समझे कुछ भी खाने लगते हैं। यह आदत एक उम्र तक तो ठीक रहती है, मगर 40 के करीब पहुंचने पर ऐसा करना सही नहीं होता है। हमारे शरीर को पोषक तत्वों की जरूरत होती है, बेहतर होगा कि हम संतुलित मात्रा में पौष्टिक आहार लें। मगर इसका मतलब यह कतई नहीं है कि हम घी-तेल से बिलकुल किनारा कर लें। शरीर को हर चीज की जरूरत होती है।

बहुत ज्यादा एक्सरसाइज करना या बिलकुल नहीं करना 

नियम से व्यायाम करना हृदय को स्वस्थ रखने के लिए बेहद जरूरी है। विशेषज्ञों का कहना है कि हफ्ते में तीन से चार बार 30 से 45 मिनट का व्यायाम दिल को दुरुस्त रखने के लिए बेहद जरूरी होता है। हालांकि हमें यह भी ध्यान रखना चाहिए कि जिस तरह बिलकुल व्यायाम नहीं करना अच्छा नहीं होता है, उसी तरह ज्यादा व्यायाम भी सेहत के लिए अच्छा नहीं होता है।

 

ज्यादा तनाव ठीक नहीं 

ज्यादा तनाव सेहत के लिए अच्छा नहीं होता है। खुद को आराम देने के रास्ते तलाशने चाहिए। आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में कब सुबह से शाम हो जाती है, पता ही नहीं चलता है। इसलिए जब मौका मिले कुछ वक्त खुद को आराम देना चाहिए।

Close Menu