श्री राजपुरोहित समाज समिति छात्रावास गणपति नगर में राजपुरोहित छात्रावास लोकार्पण समारोह के दौरान संबोधित करते हुये प्रदेश  की मुख्यमंत्री वसुधरा राजे ने कहा कि अब प्रदेष के मंदिरो जीर्णोद्वार कोई कमी नहीं आने दी जायेगी और प्रदेष के 125 मंदिरो के जिर्णोद्वार के लिये 625 करोड रूपये खर्च किये जा रह है।  मुख्य मंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया ने कहा कि लोक कल्याण कारी सरकार का काम है कि वो जनता की सुख सुविधाओं का ध्यान रखे और जनकल्याण की योजनाओ में जनता की भागीदारी सुनिश्चित करे। उन्होंने कहा कि राजस्थान में विगत 4 वर्षो से धार्मिक पर्यटन स्थलों पर करोडो रुपए खर्च किए गए जिससे न सिर्फ स्थानीय लोगो को इसका लाभ मिला बल्कि पर्यटन के कारण राज्य सरकार की आय में भी वृद्धि हुई है।  पुष्कर रोड स्थित 4 करोड़ की लागत से बने राजपुरोहित छात्रावास के उद्घाटन के अवसर पर आम जनता को सम्बोधित करते हुए मुख्य मंत्री ने कहा कि उनके कार्यकाल में हमेशा ही उन्होंने साधु संतो और देवी देवताओ का आशीर्वाद ले कर ही कार्य किया है। गोगामेड़ी धाम की बात हो या खाटू श्याम जी,ब्रह्मा मंदिर हो या राम देवरा हमारी सरकार ने हमारे सभी प्रमुख धार्मिक स्थलों पर विकास में कोई कमी नहीं रखी और उसका सीधा लाभ भी मिलता नजर आ रहा है। 

 
                 इससे पहले हेलीपेड पर मुख्य मंत्री का जिला प्रशासन के आला अधिकारियो और स्थानीय पार्टी पदाधिकारियों ने स्वागत किया। हेलीपेड से मुख्य मंत्री पुष्कर रोड स्थित गणपति नगर पहुंची जहा राजपुरोहित समाज द्वारा नव निर्मित छात्रावास का उद्घाटन किया। उन्होंने राजुरोहित समाज के लोगो को धन्यवाद देते हुए कहा कि इससे समाज में शिक्षा के प्रति जागरूकता बढ़ेगी। कार्यक्रम के बाद भागचंद की कोठी में भाजपा नेताओ और कार्यकर्ताओ के साथ बैठक हुई जिसमे विधानसभा उपचुनाव में हार के कारणों का मंथन किया गया कार्यकर्ताओं ने हार के ख़ास कारण रहे नोटबंदी, जीएसटी, स्टाम्प ड्यूटी के मुद्दे ! 
 
 
Close Menu