अजमेर- अलवरगेट पुलिस थाना क्षेत्रा स्थित गांधीनगर में प्लास्टिक के एक गोदाम में भीषण आग लगने से अफरा- तफरी मच गई। गोदाम के पास ही बच्चों का स्कूल है, जहां रविवार को छुटटी होने से बडा हादसा टल गया । आग लगने का कारण अज्ञात बताया जा रहा है।
आग का तांडव करीब आधे घंटे तक जारी रहा। गोदाम में लगने वाली आग कितनी भयानक  थी, इस बात से अंदाजा लगाय्ाा जा सकता है कि प्लास्टिक पानी की तरह बहकर  सडक पर आ गया और धुएं का काला गुबार हवा के साथ चारों दिशाओं में फैलने से लोगों को सांस लेने में दिक्कतों का सामना करना पड गया । प्लास्टिक से निकलने वाली आग की लपटे आसमान से बात कर रही थीं और उसकी तपिश ने लोगों को बेहाल कर दिया । आग और धुएं से घबराकर गोदाम के परिधि क्षेत्रा में रहने वाले कई लोग घरों से बाहर निकल कर दूर चले गए। सूचना मिलने पर अग्निश्मन दल ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया । कडी मश्क्कत और चार दमकल का पानी झोंकने पर ही आग नझाई  गई।
आग से गोदाम में रखा गया  लाखों रुपए कीमत का माल खाक हो गया । गोदाम मालिक धर्मेन्द्र जैन की बेटी के ससुर का देहान्त होने से जैन समेत परिवार के सभी लोग एक दिन पूर्व फिरोजाबाद चले गए। उन्हें मोबाइल पर हादसे की सूचना दी गई। जैन के अन्य  रिश्तेदार मौके पर पहुंचे  उन्होंने पांच लाख का माल जलने से नुकसान होना बताया ।
Close Menu