अजमेर- जिला कलक्टर आरती डोगरा ने समस्त उपखण्ड अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपने-अपने क्षेत्र में गत् तीन वर्षों से प्रधानमंत्री आवास योजना के पात्र व्यक्तियों को व्यक्तिगत लाभ की सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के साथ जोड़कर लाभान्वित करें। ऎसे समस्त लाभार्थियों को 15 अगस्त से पूर्व लाभ मिलेगा। इस कार्य के लिए विशेष अभियान भी चलाया जाएगा।

जिला कलक्टर शुक्रवार को कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित राजस्व अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता कर रही थी। उन्होंने कहा कि व्यक्तिगत लाभ की योजनाओं के पात्र व्यक्तियों को उनका लाभ मिले। इसके लिए आगामी 23 से 30 जुलाई तक पंचायतवार विशेष शिविर लगाकर लोगों को लाभान्वित करें। उन्होंने निर्देश दिए कि 15 अगस्त तक कोई पात्र व्यक्ति लाभ पाने से वंचित नहीं रहे। इसके लिए 23 जुलाई से पूर्व समस्त योजनाओं के पात्र व्यक्तियों से आवश्यक रिकॉर्ड एवं फॉर्म भरवाकर पूर्ण कर लें तथा इन विशेष शिविरों में लोगों को लाभान्वित करें।

जिला कलक्टर ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना में गत् तीन वर्षों से पात्र लाभार्थियों को उज्ज्वला, सौभाग्य, श्रमिक पंजीयन, नरेगा, पालनहार तथा अन्य सामाजिक सुरक्षा योजना का लाभ भी शत प्रतिशत दिलवाने के प्रयास किए जाए। पेंशन के सत्यापन के अभाव में जो प्रकरण लम्बित चल रहे है उनका तत्काल निस्तारण करें। इसमें 55 वर्ष की आयु से ऊपर की ऎसी महिलाएं जिन्हें विधवा पेंशन मिल रही है, उन्हें वृद्धावस्था पेंशन में बदलकर लाभान्वित करें। उन्होंने बताया कि प्रत्येक प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थी के घर में उज्ज्वला का गैस कनेक्शन उपलब्ध कराएं। वहीं राजश्री योजना में प्रत्येक प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में बकाया प्रकरणों की समीक्षा कर उन्हें किश्त उपलब्ध कराएं। जिन्हें अभी तक प्रथम किश्त नहीं मिली है उसे तत्काल उपलब्ध कराएं। सामाजिक सुरक्षा योजना का लाभ पात्र व्यक्ति को मिले इसके लिए उपखण्ड अधिकारी 10-10 पंचायतों को स्वयं देंखे।

जिला कलक्टर ने निर्देश दिए  कि गत् माहों में शहीद सम्मान यात्रा का आयोजन किया गया था। उसके भूमि आंवटन संबंधी बकाया चल रहे प्रकरणों का शीघ्र निस्तारण करें । इसी प्रकार डीएमएफसी की बैठक में लिए गए कार्यों में स्कूल एवं आंगनबाड़ी केन्द्रों में जहां शौचालय नहीं  हैं उनकी रिपोर्ट भी तत्काल भिजवावें ताकि शौचालयों का निर्माण कराया जा सके। उन्होंने अजमेर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के अभियंता को निर्देशित किया कि वे जीएसएस की भूमि का बकाया भुगतान शीघ्र जमा करवावें। वहीं जिले में कहीं अघोषित बिजली कटौती नहीं करें। उन्होंने राजस्थान सम्पर्क के बकाया प्रकरणों को गम्भीरता से लेते हुए निर्देश दिए कि इन प्रकरणों का प्राथमिकता के साथ निस्तारण किया जाए।

जिला कलक्टर ने राजस्व विभाग में बकाया चल रहे प्राथमिक जांच के प्रकरणों को शीघ्र निस्तारित करने के निर्देश देते हुए कहा कि ऎसे प्रकरण जो 6 माह से ऊपर से बकाया है उन्हें 10 दिवस में निस्तारित करें। उन्होंने सीमा ज्ञान के प्रकरणों को भी समय पर निपटाने के निर्देश दिए।

बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रथम श्री कैलाश चंद शर्मा ने कहा कि उपखण्ड अधिकारी न्याय आपके द्वार अभियान की प्रगति अपलोड करें। वे राजस्व न्यायालयों में चल रहे पुराने प्रकरणों का प्राथमिकता से निस्तारण करें। उन्होंने कहा कि उपखण्ड अधिकारी प्रतिमाह दो पटवार घर का विस्तृत निरीक्षण भी करें। जिसमें 91 प्रकरणों को प्राथमिकता से लें। उन्होंने कहा कि उपखण्ड अधिकारियों का मूल कार्य राजस्व का है। वह समय पर हो इसका ध्यान रखें। लोक सेवा गारंटी के प्रकरण समय पर निस्तारित होने चाहिए। उन्होंने निर्देश दिए कि सरकारी भूमि पर ऎसे धार्मिक स्थल बन गए है उन्हें जिस विभाग से संबंधित हो उसे उस विभाग को हस्तांतरित करें ताकि वे अपने स्तर पर कार्यवाही कर सकेंगे।

इस मौके पर अतिरिक्त जिला कलक्टर द्वितीय श्री अबु सूफियान चौहान सहित समस्त उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार, नायब तहसीलदार एवं जिला स्तरीय अधिकारीगण उपस्थित थे।

 

विकास अधिकारियों की बैठक-  नरेगा के श्रमिकों का बनेगा श्रमिक कार्ड

     जिला कलक्टर आरती डोगरा ने शुक्रवार को विकास अधिकारियों एवं उपखण्ड अधिकारियों की संयुक्त बैठक भी ली तथा उन्हें निर्देश दिए कि नरेगा के ऎसे श्रमिक जिन्होंने 90 दिवस कार्य कर लिया है उनका श्रमिक कार्ड आवश्यक रूप से बनाए ताकि उन्हें सामाजिक सुरक्षा योजना के तहत उसका लाभ मिल सके। उन्होंने कहा कि विकास योजनाओं के क्रियान्वयन में उपखण्ड अधिकारी की महत्वपूर्ण भमिका है वे अन्तरविभागीय समन्वय बनाकर कार्य करें।

     उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के पात्र लाभार्थियों को व्यक्तिगत लाभ की योजनाओं में गाय एवं बकरी शैड बनाकर उनको जीविकोपार्जन का साधन उपलब्ध कराना हैं। इस प्रकार एक व्यक्ति को जिसे प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ मिल रहा है। उसे समस्त सामाजिक सुरक्षा योजनाओं का लाभ मिल सकेगा तथा वे अपने पैरो पर खड़ा होकर परिवार का जीवनयापन अच्छे ढ़ंग से कर पाएगा। जिला कलक्टर ने विकास अधिकारियों से कहा कि वे अपने यहां पेंशन के बकाया प्रकरणों को तीन दिवस में निस्तारित करें।

     बैठक में जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री अरूण गर्ग ने विकास अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे समस्त योजनाओं के नए कार्यों की वित्तीय स्वीकृति जारी होते ही कार्य प्रारम्भ कर दें। समस्त स्थानों पर 15 अगस्त तक सभी कार्य प्रारम्भ हो जाए यह विकास अधिकारियों की जिम्मेदारी रहेगी। उन्होंने कहा कि कार्य पूर्णता पर राशि उपयोगिता प्रमाण पत्र तत्काल भिजवावें ताकि आगामी राशि मिल सके। उन्होंने कहा कि नरेगा में व्यक्तिगता लाभ की योजनाओं के कार्य प्राथमिकता से कराए जाने है। इसके लिए प्रत्येक पंचायत 10-10 कार्य स्वीकृति योग्य तैयार कर ऎ सप्ताह में उनके प्रस्ताव भिजवावें। इसी प्रकार 10 -10 पंचायतों को उजियारी योजना में गोद लेकर कार्य करें। जिसमें सभी की सहभागिता ली जाए।

     बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर द्वितीय श्री अबु सूफियान चौहान ने बताया कि जिले में गौशाला अनुदान के तहत जो भुगतान किया गया है। उसका प्रमाणिकरण तहसीलदार द्वारा किया जाकर निर्धारित प्रपत्र में तत्काल भिजवावें ताकि उनका उपयोगिता प्रमाण पत्र जारी किए जा सके।

     बैठक में सरवाड़,  भिनाय एवं टॉटगढ़ उपखण्ड क्षेत्रों में शिक्षा के क्षेत्र में किए गए नवाचारों की भी प्रशंसा की गई।

     बैठक में अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री भगवत सिंह राठौड़ सहित समस्त उपखण्ड अधिकारी एवं विकास अधिकारी उपस्थित थे।

Close Menu