पुष्कर के समीप गाँव भगवानपुरा के स्कूल के बाहर चौराहे से स्कूली छात्रा को अपरहण कर छोड़ने की घटना पूरी तरह से गलत साबित हुई है । इस घटना की सच्चाई को सामने लाने के लिए पुष्कर थाने के सी आई  महावीर  शर्मा ने मात्र चार घंटे में खुलासा कर दिया । 

 
 घटना की सूचना मिलते छात्रा को पुलिस हाथो हाथ मेडिकल कराने के लिए अजमेर अस्पताल पहुंचे ।जहाँ पर पुलिस ने छात्रा का मेडिकल कराया । मेडिकल में छात्रा केवसाथ किसी भी प्रकार की कोई अप्रिय घटना नही घटी । जिसके बाद पुलिस ने राहत  की सांस ली । वही पुलिस ने छात्रा को शक्ति से पूछताछ की तो छात्रा ने अपनी मन घड़न कही बया कर दी । 
 
छात्रा ने पुलिस को बताया कि लंच टाइम के दौरान वह ननियाल के लिए बस बैठकर निकली  । बस में कंडक्टर ने छात्रा से किराया मांग तो छात्र के पास किराया नही था । जिसके कारण छात्रा डर गई थी ।
 
 
 इस दौरान छात्रा ग्राम गनाहेड़ा  में उतर गई ओर लोगो की भीड़ जमा हो गई । वह सहम गईं । जिसके बाद वह सारी कहानी मन से बना ली थी । जिसके चलते पूरे कस्बे में हड़कम्प मच गया ।  

Related Post

Close Menu